• Venkatesan R

प्यार अंधा है

5.6.2015

प्रश्न: महोदय, कृपया "प्यार अंधा है" पर टिप्पणी करें।


उत्तर: प्यार अंधा है, क्योंकि यह तर्कसंगत नहीं है। यह भावनात्मक है। तर्क विश्लेषण करता है कि क्या कोई व्यक्ति अच्छा, बुरा, विश्वसनीय या धोखेबाज है। लेकिन प्यार इसका विश्लेषण नहीं करता है। क्योंकि प्यार भरोसे पर आधारित होता है। लेकिन तर्क संदेह पर आधारित है।


भरोसा व्यक्ति के सकारात्मक पक्ष को देखता है। संदेह व्यक्ति के नकारात्मक पक्ष को देखता है। सभी में सकारात्मकता और नकारात्मकता है। यदि आप दोनों को समझते हैं, तो आप उस व्यक्ति के साथ शांति से रह सकते हैं। मूल रूप से, महिलाएं भावुक होती हैं, इसलिए उनका दाहिना ओर मस्तिष्क अधिक सक्रिय होता है, और पुरुष अधिक तार्किक होते हैं, और उनका बायाँ मस्तिष्क अधिक सक्रिय होता है।


जब दोनों एक दूसरे से प्यार करते हैं, तो इन गुणों का आदान-प्रदान होता है। यही कारण है कि प्यार में असफलता के बाद एक लड़का अवसाद में चला जाता है। लेकिन लड़की अगला जीवन जी रही है। प्यार के बिना तर्क एक रेगिस्तान की तरह है। तर्क के बिना प्यार समुद्र की तरह है। दोनों ही खेती के लिए उपयोगी नहीं हैं। जब दोनों को सही अनुपात में मिलाया जाता है, तो खेती संभव है।


जीवन खेती की तरह है। इसलिए तर्क और प्यार दोनों आवश्यक हैं। यदि आपके पास प्यार नहीं है, तो जीवन दुखी हो सकता है। यदि आप तर्क के बारे में कुछ नहीं जानते हैं, तो आपके साथ धोखा होगा। यदि दोनों समान हैं, तो जीवन संतुलन में होगा। दाएं तरफा और बाएं तरफा दिमाग दोनों को समान रूप से सक्रिय होना चाहिए।


तर्क के कारण नर ताप है। प्यार के कारण महिला मस्त है। जैसा कि वे एकजुट होते हैं, ताप और मस्त दोनों संतुलित होते हैं। तर्क सचेत मन की स्थिति में संचालित होता है। प्यार अवचेतन मन की स्थिति में काम करता है। चेतना-पूर्वक प्यार अति-सचेत मन की स्थिति में काम करता है।


तर्क चेतना है। प्रेम बड़ी ऊर्जा है। जब चेतना और ऊर्जा संयुक्त होते हैं, तो एक महान परिवर्तन होता है। आप एक अति-सचेत अवस्था तक उठ जाते हैं। प्रत्येक व्यक्ति को चेतना की अवस्था से अवचेतन अवस्था तक और अवचेतन अवस्था से अतिचेतन अवस्था तक विकसित होना चाहिए। यही पुरुष और महिला एकता का उद्देश्य है।


सुप्रभात ... चेतना-पूर्वक प्यार करे..💐


वेंकटेश - बैंगलोर

(9342209728)


यशस्वी भव

8 views0 comments

Recent Posts

See All

रिश्तों में समस्या

12.8.2015 प्रश्न: महोदय, मैं उन संबंधों के मुद्दों से बार-बार त्रस्त रहा हूं जो मेरे करियर और जीवन को प्रभावित करते हैं। मैं अक्सर खुद से सवाल करता हूं। क्या होगा अगर मेरा साथी मेरा उपयोग करता है और म

क्या कृष्ण मर चुके हैं?

11.8.2015 प्रश्न: महोदय, हमने सुना है कि कृष्ण भी मर चुके हैं। उसकी टांग पर नजर थी। महाभारत युद्ध के एक दिन बाद वह एक पेड़ के नीचे अच्छी तरह सो रहा था। बाद में, ज़ारा नामक एक शिकारी ने एक हिरण के लिए

सिद्धियों की विधि

10.8.2015 प्रश्न: महोदय, हमने सुना है कि कृष्ण एक महान योगी हैं। उसके पास हजारों चाची थीं। और वह एक साथ कई स्थानों पर दिखाई दे सकता है। इसके लिए क्या तंत्र है और मनुष्य इस तरह के महान देवता कैसे बन सक